business opportunity start turmeric Cultivation just in 2 lakh investment and earn 14 lakh rupees

Must Read

नई दिल्ली। यदि आप अपनी रोजाना की 9 से 5 की नौकरी से तंग आ चुके हैं, तो आप अपनी नौकरी छोड़ कर अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। आज हम बात कर रहे हैं एक बेहतरीन बिजनेस प्लान (लाभदायक बिजनेस आइडिया) की। जिसे आप कम से कम पैसा लगाकर शुरू कर सकते हैं और हर महीने लाखों रुपये कमा सकते हैं। आज हम आपको हल्दी की खेती के बारे में बताते हैं, जिसे कम कीमत में शुरू करने से आपको छह महीने बाद फायदा होने लगेगा। आइए जानते हैं इसके बारे में…

हल्दी उगाना बहुत फायदेमंद होता है
हल्दी का मसाला संस्कृतियों में सबसे महत्वपूर्ण स्थान है। इसका उपयोग भोजन से लेकर शुभ कार्यों में किया जाता है। वहीं दूसरी ओर तांत्रिक प्रयोगों में काली हल्दी का प्रयोग किया जाता है। इसके अलावा हल्दी में एंटीबायोटिक गुण होते हैं, जिसके कारण इसका उपयोग घरेलू उपचार में भी किया जाता है। यदि इसका व्यावसायिक उत्पादन किया जाए तो हल्दी की खेती से अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है। इस सब में सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आप छह महीने बाद तक हल्दी उगाने से बहुत पैसा कमाना शुरू नहीं करेंगे, क्योंकि हल्दी उगाने में केवल छह महीने लगते हैं।

हल्दी उगाना कैसे शुरू करें
हल्दी की उन्नत किस्मों में पूना, सोनिया, गौतम, राशिम, सुरोमा, रोमा, कृष्णा, गुंटूर, मेघा, सुकर्ण, सुगंदन और को-ए किस्में शामिल हैं। काली हल्दी केली के समान होती है। काली हल्दी या नरकाचूर औषधीय महत्व का पौधा है। हल्दी की खेती समुद्र तल से 1500 मीटर तक की ऊंचाई वाले विभिन्न उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में की जाती है।जब सिंचाई पर आधारित खेती की जाती है, तो तापमान 20 से 35 डिग्री सेंटीग्रेड होना चाहिए और वार्षिक वर्षा 1,500 मीटर या उससे अधिक होने की उम्मीद है।

हल्दी की खेती

इसकी खेती विभिन्न प्रकार की मिट्टी जैसे बलुई, चिकनी बलुई, दोमट मिट्टी आदि में की जाती है। मिट्टी का pH मान। मान 4.5 और 7.5 के बीच होना चाहिए। इसकी बुवाई के लिए जमीन को ठीक से तैयार करना आवश्यक है। इसके लिए खेत की ठीक से जुताई कर मिट्टी को पतला कर लेना चाहिए। हल्दी उगाने के लिए तेजी से सिंचाई की आवश्यकता नहीं होती है। यदि इसे गर्मियों में बोया जाता है, तो मानसून की शुरुआत से पहले इसकी सिंचाई करना आवश्यक है।

लाख कैसे कमाए
वैज्ञानिकों ने हल्दी की एक किस्म विकसित की है। विविधता का नाम प्रतिभा है। वैसे सड़ांध की समस्या मुख्य रूप से हल्दी से होती है। लेकिन इस संबंध में प्रतिभा किस्म अद्भुत है, इस किस्म की सड़न की समस्या नगण्य है। यही कारण है कि कुछ किसान इस किस्म की खेती से 2 लाख रुपये खर्च कर 14 लाख रुपये कमाते हैं।

डीडी किसान की रिपोर्ट के अनुसार, विजयवाड़ा क्षेत्र में इस किस्म की बुवाई कर किसान हर महीने लाखों कमाते हैं। इधर, किसान चंद्रशेखर आजाद 2 लाख रुपये का निवेश कर हल्दी की किस्म प्रतिभा की खेती कर 14 लाख रुपये कमाते हैं। प्रतिभा किस्म की खेती से इतनी बड़ी आय के कारण चंद्रशेखर आजाद को आंध्र प्रदेश में हल्दी की खेती के लिए ब्रांड एंबेसडर नियुक्त किया गया है। दरअसल, हल्दी की गिनती विजयवाड़ा की प्रमुख फसलों में की जाती है और यहां के किसान इसकी खेती अथक रूप से करते हैं।

Latest News

कैटरीना कैफ ने ‘माशाल्लाह’ सॉन्ग पर किया बेली नृत्य डान्स, बॉलीवुड वालों ने खूब बजाई तालियां- देखें Video

कैटरीना कैफ ने हाल ही में तुर्की में अपनी आने वाली फिल्म 'टाइगर 3' की शूटिंग पूरी की है।...

More Articles Like This